Type Here to Get Search Results !

हे आदिवासी बस तु अब नाचता रहे क्योंकि नाचने के सिवय तेरे पास अब कुछ बचा नही है - धन सिंह

हे आदिवासी बस तु अब नाचता रहे क्योंकि नाचने के सिवय तेरे पास अब कुछ बचा नही है। तेरे पुरखो की जमीन सरनार्थी थाईलेंडियो ने लुट ली है अगर तु विद्रोह करेगा तो तुझे नक्सली बोलकर तेरी ही जमीन पर तुझे मार दिया जायेगा। तु संगठित होकर चुनाव लडेगा तो तुझे EVM मशीन से हरा दिया जायेगा। तेरे बच्चे पढाई करना चाहेंगें लेकिन No Detention Policy 

हे आदिवासी बस तु अब नाचता रहे क्योंकि नाचने के सिवय तेरे पास अब कुछ बचा नही है - धन सिंह


मतलब कक्षा 1 से कक्षा 10 वी तक बिना पढे पास कर कक्षा 12 वी में केन्द्रीय पाठ्यक्रम डालकर तेरे बच्चो को फेल कर दिया जायेगा। 

तेरे पढे लिखे बच्चे IAS, IPS, IFS बनना चाहेंगे तो Literal Entry के माध्यम से पहले ही स्वर्ण वर्ग के बच्चो को बिना UPSC परिक्षा दिये ही सिधे प्रायवेट संसधानो से भरती कर ली जायेगी। 

तेरे पढे लिखे बच्चे कभी सुप्रीम कोर्ट का जज बनना चाहेंगे तो उन्हें भी Collegium System से बाहर कर स्वर्णो को बिना परिक्षा के भर्ती कर लिया जायेगा। 

तु अगर अपना दुखड़ा दुनिया को सुनाना चाहेगा भी तो नही सुना पायेगा क्योंकि नेशनल और इंटरनेशनल मिडीया पर 100% अधिकार स्वर्णो का है। 

तेरे बच्चे अगर व्यापार करना चाहेंगे तो उन्हें कोई बैंक बडा लोन नही देगी क्योंकि 95% बैंको पर कब्जा स्वर्णो का है। हे आदिवासी बस तु अब नाचता रहे क्योंकि नाचने के सिवाय तेरे पास अब कुछ बचा नही है। 

तेरे अपने भी अब तेरे अपने नही रहे क्योंकि तेरे अपनो ने दो टके की नौकरी और चंद राजनीतिक पदो में अपना जमीर बेच दिया है। 


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.