Type Here to Get Search Results !

शेयर बाजार में पैसा खोने पर क्या करना चाहिए? Share Bajar Me Paisa Khone Par Kya Karna Chahiye

नमस्कार दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं कि शेयर बाजार में पैसा खोने पर क्या करना चाहिए? या शेयर बाजार में आपको जो नुकसान हुआ है उसको कैसे रिकवर करें? दोस्तों इसको जानने के लिए आप इस आर्टिकल को पूरे अंत तक जरूर पढ़े ताकि आपको इसके बारे में जानकारी मिल सके और आपने जो शेयर बाजार में जो पैसे कोई हैं उसको रिकवर कर सकें।

शेयर बाजार में पैसा खोने पर क्या करना चाहिए? Share Bajar Me Paisa Khone Par Kya Karna Chahiye

शेयर बाजार में पैसा खोने पर क्या करना चाहिए? Share Bajar Me Paisa Khone Par Kya Karna Chahiye


दोस्तों आप सभी को हरिवंश राय बच्चन जी का 'लहरों से डर के नौका पार नहीं होती, कोशिश करने वालों की हार नहीं होती' कविता की एक लाइन "गिर कर उठना, उठकर गिरना, मेहनत बेकार नहीं होती, कोशिश करने वालों की हार नहीं होती।" यह लाइन तो याद होगा ही।

दोस्तों आप सभी अच्छे से जानते हैं कि शेयर बाजार में कोई भी व्यक्ति अपनी नानी के लिए शेयर बाजार में निवेश नहीं करता है बल्कि प्रत्येक व्यक्ति लाभ की उम्मीद से ही शेयर बाजार में अपने पैसे लगते हैं। लेकिन आप सभी को अच्छे से पता है कि किसी भी व्यापार में लाभ हानि दोनों पहलू होते हैं। जिस किसी व्यक्ति ने शेयर बाजार की कला सीख ली वह महारत हासिल कर लिया। 

वे घाटे से बचने की कोशिश नहीं करते बल्कि उन्हें काम करते हैं। इसका मतलब यह होता है, कि खरीद मूल्य से 7 से 8 परसेंट तक कम मूल्य पर स्टॉक बचा जाए। एक निवेशक के लिए अपनी गलती को स्वीकार करना और नुकसान में बचाना हमेशा बेहद ही मुश्किल होता है। क्योंकि वह नहीं समझ पाते की वे आखिर करें तो क्या करें? लेकिन हानि होने के बाद पछतावा करने से अच्छा है अपने पास जो स्टॉक है उसको समय के रहते बेचना बाकी निवेशकों से आपको अलग बनाता है।

शेयर बाजार में हानि के प्रकार

दोस्तों शेयर बाजार में पैसा कोने पर क्या करना चाहिए? यह जानने से पहले आपके स्टाफ शेयर बाजार में नुकसान के प्रकारों के बारे में जानना बेहद जरूरी है। शेयर बाजार में होने वाले हनी निम्न प्रकार के हो सकते हैं:

1. अवसर हानि

चलिए दोस्तों समझते हैं कि अवसर हानि क्या है? दोस्तों मान लीजिए कि अपने ₹10000 के स्टाफ खरीदा है और आपने यह स्टॉक 1 वर्ष के लिए खरीद कर रखा है और इसकी अंत में आपको छोटी सी मार्जिन बढ़ता है या एक ही स्तर पर रहता है। तो आप सोच रहे होंगे कि आपने पैसा नहीं खाया है लेकिन सच तो यह है कि अपने ₹10000 कहीं और निवेश करके इसे भी कहीं ज्यादा पैसे कमा सकते थे। यह होता है अवसर हानि।

दोस्तों इसे आप समझ सकते हैं कि सबसे अच्छा विकल्प का चुनाव नहीं करना ही अवसर हानि होता है तो दोस्तों आपको कहीं भी किसी भी स्टॉक में निवेश करने से पहले अच्छे से रिसर्च कर लेना है तभी आपको उसमें निवेश करना है अन्यथा आपको हानि ही होगा।

2. पूंजीगत हानि

चलिए दोस्तों अब समझते हैं कि पूंजीगत हानि क्या होता है? दोस्तों पूंजीगत हानि वह होती है। जो हम किसी भी संपत्ति को या किसी भी स्टाफ को हम जिस मूल्य में खरीदे हैं। उसे कम कीमत पर बेच देते हैं तो उसे स्थिति में हमारा पूंजीगत हानि होता है। दोस्तों मान लीजिए कि आपने कोई स्टॉक खरीद जिसकी कीमत है प्रति शेयर ₹1000 और इस शेर को आप स्टॉक करके रखे हैं और जब इसकी कीमत कम हो जाती है 1000 से घाट के 995 रुपए और आप इस कीमत पर इसको सेल करते हैं तो यह आपकी पूंजीगत हानि है।

इसलिए यहां भी बेहद जरूरी है कि आपको किसी भी स्टॉक को खरीदने से पहले उसके बारे में रिसर्च करना। ताकि आपको पता चल सके कि इसकी कीमत भविष्य में बढ़ेगा या काम होगा। आपको कभी भी कम कीमत पर नहीं बेचना है।

शेयर बाजार में पैसा खोने पर क्या करना चाहिए? 

चलिए दोस्तों अब बात कर लेते हैं कि शेयर बाजार में पैसे खोने पर क्या करना चाहिए? दोस्तों इसे रिकवर करने के लिए आपको निम्न कदम उठाना चाहिए:

1.अपनी समझ को मजबूत करें:

शेयर बाजार में निवेश करने से पहले, आपको बाजार के बारे में अच्छी तरह से समझना आवश्यक है। आपको विभिन्न शेयरों के बारे में जानकारी होनी चाहिए, उनके कारोबारिक क्षमता, अनुभव, नियमितता और उसके बाजार में कितना प्रभावशाली है, इसकी समीक्षा करनी चाहिए। इसके अलावा, आपको बाजार के नियमों, उतार-चढ़ावों, और अन्य रिस्कों को भी समझना आवश्यक है। एक अच्छा शेयर बाजार शिक्षा प्राप्त करें और समाचार और अपडेट के लिए सक्रिय रहें।

2. निवेश के लिए योजना बनाएं:

निवेश करने से पहले योजना बनाना महत्वपूर्ण है। यह आपको एक स्पष्ट दिशा प्रदान करेगा कि आपका निवेश क्या है, आपका लक्ष्य क्या है, और आपके लिए सही निवेश क्या है। यह योजना आपको अपने निवेश के लिए एक निर्दिष्ट बजट, समय सीमा, और रिस्क प्रोफ़ाइल से संबंधित जानकारी प्रदान करेगा।

3. गलती से सीखना

दोस्तों आपको आपने जो गलती किया है पहले उसे पर ध्यान देना है और आपने जो गलती किया है उसे दोहराने की गलती कभी ना करें इस प्रकार से आप अपनी शेयर बाजार में हुए नुकसान से निपटारा पा सकते हैं। अपनी गलती को सुधारने कि लिए जोश मे नहीं बल्कि होश मे निर्णय लेने कि आवश्यकता होती है। 

4. निवेश का समय चुनें:

शेयर बाजार में निवेश करने का सही समय चुनना महत्वपूर्ण है। बाजार में कभी-कभी वोलेटाइलिटी होती है, और इसलिए सही समय पर निवेश करना आपको बड़ी लाभ प्रदान कर सकता है। बाजार के तबादलों को ध्यान में रखते हुए, आपको अच्छे निवेश के मौके को पहचानना होगा।

5. निवेश के लिए दिवसवार ध्यान दें:

शेयर बाजार में निवेश करते समय विभिन्न शेयरों के दिनांक को ध्यान में रखना चाहिए। अधिकांश निवेशक शेयर बाजार की निकटतम तिथियों का ध्यान रखते हैं, जैसे कि आरंभिक या अंतिम दिन और भारी खुला या बंद होने वाले दिन। इसके अलावा, आपको विभिन्न अन्य कारकों जैसे कि अनुदान, समाचार, और विपणन की जानकारी को भी ध्यान में रखना चाहिए।

6. अपने निवेश का अनुसरण करें:

निवेश करते समय नियमित अनुसरण करना महत्वपूर्ण है। आपको अपने निवेश को नियमित अंतराल पर मूल्यांकन करना चाहिए और यदि आपका निवेश अनुमान से कम होता है, तो आपको कार्रवाई लेनी चाहिए।

7. जिम्मेदारी को स्वीकार करें

दोस्तों आपने तो शेयर बाजार में अपने पैसे को खो दिया है तो आपको शेयर बाजार से पीछे नहीं हटाना है बल्कि आपको शेयर बाजार में आपको बने रहना है और सीखते रहना है ताकि आपने जो नुकसान किया है उसका रिकवर हो सके। अगर वर्तमान में आपके पास ट्रेडिंग में पैसे लगाने के लिए नहीं है तो आपको ट्रेडिंग छोड़ना नहीं है आपको लगातार प्रेक्टिस करना है। रोज देखो ट्रेडिंग में मार्केट कैसे चल रहा है? अगर आप लगातार देखोगे रोज तो आपको ट्रेडिंग समझ आने लगेगा, एक अनुभव मिलेगा। 

8. निवेश के लिए विवेकपूर्ण निर्णय:

शेयर बाजार में निवेश करते समय विवेकपूर्ण निर्णय लेना बहुत महत्वपूर्ण है। आपको हमेशा अपने निवेश के लक्ष्य, लाभ, और नुकसान को मध्यस्थ करके निर्णय लेना चाहिए। कभी-कभी, नुकसान से बचने के लिए शेयर बाजार से निकासी का निर्णय लेना समय-समय पर सही हो सकता है।

9. स्वयं को संभालें:

शेयर बाजार में निवेश करने के लिए आपको अपने विचारों को संभालना आवश्यक है। निवेश के फैसले लेते समय, आपको धैर्य और संतुलन में रहना चाहिए और हमेशा ध्यान देना चाहिए कि बाजार में अचलता अवधि में बदलाव हो सकता है।

10. अपने निवेश का अनुभव साझा करें:

शेयर बाजार में निवेश करते समय अपना अनुभव और ज्ञान दूसरों के साथ साझा करना बहुत महत्वपूर्ण है। आपके अनुभव से दूसरे निवेशक भी सीख सकते हैं और इससे उनकी निवेश की क्षमता बढ़ सकती है।

11. विवेकपूर्ण वित्तीय नियोजन:

शेयर बाजार में पैसा खोने से बचने के लिए विवेकपूर्ण वित्तीय नियोजन बनाना आवश्यक है। आपको अपने निवेश के लिए वित्तीय लक्ष्यों को स्पष्ट करना चाहिए, और उन्हें प्राप्त करने के लिए आवश्यक उपायों को निर्धारित करना चाहिए।

12. सही निवेश विकल्पों की खोज करें:

शेयर बाजार में पैसा खोने से बचने के लिए सही निवेश विकल्पों की खोज करना आवश्यक है। आपको अपने लक्ष्य, आवश्यकताओं, और रिस्क प्रोफ़ाइल के आधार पर निवेश करने के लिए सही निवेश विकल्पों का चयन करना चाहिए।

13. समय-समय पर पुनरावलोकन करें:

अंत में, आपको अपने निवेश को समय-समय पर पुनरावलोकन करना चाहिए। बाजार में बदलाव होता रहता है और इसलिए आपको नियमित अंतराल पर अपने निवेश को मूल्यांकन करना चाहिए। यदि आपका निवेश अनुमान से कम हो रहा है, तो आपको कार्रवाई लेनी चाहिए।

अगर आप शेयर बाजार में पैसा खो चुके हैं, तो चिंतित होने की कोई आवश्यकता नहीं है। उपरोक्त सुझावों का पालन करने से आप अपनी वित्तीय स्थिति को सुधार सकते हैं और अपने भविष्य को सुरक्षित बना सकते हैं। ध्यान दें, शेयर बाजार निवेश या वित्तीय योजना है, और समय और धैर्य के साथ, आप अच्छे परिणाम प्राप्त कर सकते हैं।

निष्कर्ष 

दोस्तों आप सभी को अच्छे से पता है कि किसी भी व्यापार में लाभ एवं हानि दोनों शामिल होते हैं कभी हानि होती है तो कभी लाभ लेकिन इन दोनों पहलुओं के पीछे हमारा खुद का रिसर्च मायने रखते हैं इसलिए आपको यह सारी चीज करके ही निवेश करना है। दोस्तों अगर आपको हमारा आज का यह शेयर बाजार में पैसा खोने पर क्या करना चाहिए? पोस्ट पसंद आया तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और आपको इस Share Bajar Me Paisa Khone Par Kya Karna Chahiye आर्टिकल से रिलेटेड कोई भी सवाल पूछना है तो आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.